-->



 कोरबा : मास्क की जांच के दौरान दीपका के तहसीलदार ने एक दुकान में खरीदारी करने पहुंचे युवक की चालान काटने की कोशिश की। इस दौरान वह बहस करने लगा। 



खबरों के लगातार अपडेट के लिए जुड़ें 👇🏻👇🏻 

https://chat.whatsapp.com/LqtnkFbjXiMBX6C6eNCgQu

इससे नाराज होकर तहसीलदार ने युवक को एक तमाचा जड़ दिया। इसके साथ ही मौके पर बखेड़ा खडा हो गया। युवक की मां समेत अन्य स्वजन भी वहां पहुंच गया और अंतत: तहसीलदार को हाथ जोड़ कर माफी मांगनी पड़ी।


दीपका में संचालित फोटोकापी मशीन की एक दुकान में क्षेत्र में रहने वाला एक युवक किसी काम से पहुंचा था। लगातार बढ़ रहे कोरोना संक्रमण को देखते हुए प्रशासन फिजिकल डिस्टेंस व मास्क लगाने के नियम का पालन कराने में जुटी हुई है। बताया जा रहा है कि कार्रवाई कर रहे दीपका तहसीलदार वीरेंद्र श्रीवास्तव टीम के साथ दुकान में पहुंचे। उस वक्त वह युवक मास्क नहीं लगाया था। यह देख कर तहसीलदार ने चालान काटने की कार्रवाई शुरू की।

युवक ने इसका विरोध करते हुए कहा कि वह मास्क लगाकर घर से निकला था और दुकान पहुंचा, तभी मास्क लगाया हुआ था। दुकानदार से बात करने के दौरान उसने मास्क निकाला है और इस बीच तहसीलदार पहुंच गए। युवक ने सफाई देते हुए चालान नहीं देने की बात कही, तो तहसीलदार नाराज हो गए और दुकान के अंदर ही उसे एक तमाचा जड़ दिए। बस फिर क्या था, युवक आग बबूले से गुस्सा हो गया और मोबाइल से संपर्क कर इस घटना की जानकारी अपने मां को दी।

थोड़े ही देर में उसके दोस्त व स्वजन वहां पहुंच गए। तब तक तहसीलदार अपनी गाड़ी के अंदर जाकर बैठ गए थे। नाराज स्वजनों ने गाड़ी को घेर लिया और तहसीलदार को जाने से रोक दिया। युवक तहसीलदार से माफी मंगवाने की जिद पर अड़ा रहा। मौके पर मौजूद पुलिस अधिकारी ने समझाइश देने की कोशिश की, पर नाराज लोगों ने एक ना सुनी। आखिरकार तहसीलदार गाड़ी से बाहर निकले और युवक के सामने हाथ जोड़ कर माफी मांगी तब कहीं जाकर मामला शांत हुआ। इस बीच किसी ने माफी मांगते हुए वीडिया किसी ने मचा ली, जो अब इंटरनेट मीडिया में वायरल हो रहा। चर्चा यह भी रही कि इस तरह के हालात में अधिकारी कोरोना संक्रमण कैसे नियंत्रित करेंगे।

तहसीलदार वीरेंद्र श्रीवास्तव का कहना है कि नगर पालिका परिषद अमले के साथ वे जांच के लिए निकले थे। इस दौरान देखा कि फोटोकापी दुकान में भीड़ लगी है और कुछ लोग मास्क भी नहीं पहने है। मैं दुकान पहुंच कर लोगों को समझाइश दिया और जो मास्क नहीं पहने थे, उनका चालान काटने कहा। इस बीच एक युवक जिसके मुंह के नीचे मास्क लटक रहा था, उसने फट से मास्क उपर कर लिया और चालान की राशि नहीं देने हुज्जत करने लगा। मैने उसे विवाद नहीं करने की बात कहते हुए दुकान से बाहर करने की कोशिश की, पर वह थप्पड़ मारने का आरोप लगाते हुए बवाल मचाने लगा।



अधिक से अधिक दोस्तों को शेयर करें 👇🏻👇🏻