-->


 बिलासपुर। बिलासपुर में विवाहिता महिला से दुष्कर्म करने के आरोपी रेलकर्मी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। दरअसल, महिला अपने पति को छोड़कर अलग रहती थी। तभी रेलकर्मी ने उससे दोस्ती कर उससे शादी करने का वादा किया और दुष्कर्म करने लगा। बाद में महिला ने शादी करने के लिए कहा, तब रेलकर्मी ने शादी करने से मना कर दिया। तब उसकी हरकतों से परेशान महिला ने उसके खिलाफ केस दर्ज करा दिया। मामला तोरवा थाने का है।

तोरवा क्षेत्र में रहने वाली 35 साल की महिला अपने पति को छोड़कर अलग रहती है। इस दौरान करीब साल भर पहले उसकी पहचान न्यू लोको कॉलोनी निवासी मंटू सिंह कुशवाहा से हुई। मंटू सिंह रेलवे में ग्रुप डी कर्मचारी है। महिला से जान-पहचान होने पर मंटू ने उससे पहले दोस्ती की। इस दौरान दोनों मोबाइल में बातचीत भी करने लगे थे। तभी रेलकर्मी ने उससे प्यार का इजहार किया और उसके साथ शादी करने का झांसा दिया। बीते कई माह से वह महिला के साथ दुष्कर्म करता रहा।

महिला ने शादी करने के लिए बनाया दबाव


महिला ने आरोप लगाया है कि रेलकर्मी ने उसके अकेलेपन का फायदा उठाकर पहले उससे दोस्ती की। इसके बाद शादी करने का झांसा देकर दुष्कर्म करने लगा। कुछ दिन पहले महिला ने उससे शादी करने के लिए दबाव बनाया। तब रेलकर्मी ने उसके साथ शादी करने से मना कर दिया और बोला कि वह शादी नहीं कर सकता। इसके बाद वह अपने घर से गायब हो गया था। इससे परेशान होकर महिला ने उसके खिलाफ केस दर्ज करा दिया।

UP भागने की फिराक में था रेलकर्मी


पुलिस ने केस दर्ज करने के साथ ही आरोपी रेलकर्मी की तलाश शुरू कर दी। वह अपने घर पर नहीं मिला, तब पुलिस उसके ऑफिस भी गई, जहां उसकी जानकारी जुटाई। तब पता चला कि वह मूलत: उत्तरप्रदेश के बलिया जिले के चिबरागांव का रहने वाला है। वह अपना मोबाइल भी बंद कर गांव भागने की फिराक में था। इससे पहले ही पुलिस ने उसके घर के पास दबिश देकर उसे दबोच लिया।


खबरों के लगातार अपडेट के लिए हमसे जुड़ें 👇🏻👇🏻



अधिक से अधिक दोस्तों को शेयर करें 👇🏻👇🏻