-->

 


मंगलवार को दोपहर 12.35 बजे बालोद-राजनांदगांव मार्ग पर डेंजरजोन जुझारा नाला टर्निंग के पास ट्रक व बाइक में टक्कर हो गई। ट्रक के पीछे चक्के में दबने से सिर, पैर व शरीर के अन्य हिस्सों में गंभीर चोटें आने से बाइक सवार माली घोरी निवासी 41 वर्षीय लोकेश उर्फ पिंटू तिवारी व उनके 4 साल के बेटे दक्ष तिवारी की मौत मौके पर हो गई, वे हेलमेट नहीं पहने थे।

दोनों बालोद के मधु चौक स्थित निजी स्कूल से माली घोरी अपने घर वापस जा रहे थे, तभी हादसा हुआ। घटना की जानकारी मिलने के बाद जब लोग मौके पर पहुंचे तो ट्रक को छोड़कर ड्राइवर फरार हो गया। पिता व बेटे के शव को पुलिस के वाहन से जिला अस्पताल लाया गया।

दोपहर को छुट्‌टी के बाद स्कूल से लौट रहे थे घर


मौके पर मौजूद माली घोरी निवासी पीयूष तिवारी ने बताया कि दोपहर को स्कूल की छुट्टी होने के बाद लोकेश तिवारी अपने बेटे दक्ष तिवारी को बाइक से घर ले जा रहा था। इस दौरान राजनांदगांव रोड की तरफ से स्पीड से आ रहे ट्रक के चालक ने ठोकर मार दी। जिस स्थान पर हादसा हुआ, वहां टर्निंग भी है। बाइक सवार पिता व बेटे ट्रक के पीछे पहिए की चपेट में आ गए, जिससे घटनास्थल पर ही दोनों की मौत हो गई। घटना के बाद राहगीरों ने तत्काल पुलिस व 108 संजीवनी टीम को सूचना दी। देर शाम तक दोनों के शव का पीएम किया गया।

टर्निंग होने से जुझारा नाले के पास हर साल 15 हादसे


जिला यातायात विभाग व पुलिस के अनुसार जुझारा नाला के पास टर्निंग होने से सालभर में 10-15 सड़क हादसे होते है। इसलिए इस स्थान को डेंजरजोन के दायरे में रखा गया है। लोहे का बैरियर भी लगाया गया है, बावजूद स्पीड से वाहन चलाने की वजह से हादसे हो ही रहे है। बालोद टीआई नवीन बोरकर ने बताया कि ट्रक और बाइक में टक्कर होने से पिता व बेटे की मौत हुई है। ट्रक को जब्त कर आरोपी चालक के खिलाफ धारा 304-ए, 279 के तहत अपराध दर्ज कर लिया है।

इसी साल एडमिशन करा रोज स्कूल छोड़ने जाते थे


मालीघोरी के सरपंच फिरोज तिगाला, गोलू तिगाला ने बताया कि मृतक पिंटू घर के ईंट भट्ठा की देखरेख करने का काम करता था। बाइक के सामने में बिठाकर बेटे को घर ला रहा था। इसी साल बेटे का एडमिशन स्कूल में कराया था। जिसके बाद रोजाना घर से स्कूल और स्कूल से घर बेटे को बाइक से छोड़ते थे। मंगलवार को भी उसे लेने गया था। घटना के बाद दोनों के सिर से ब्लड निकल रहा था। बच्चा स्कूल यूनिफार्म में था। कंधे पर बैग लटका ही था। इसे देखकर लोगों की आंखें नम हो गई।

भाई कांवर यात्रा पर इसलिए आज होगा अंतिम संस्कार


मृतक पिंटू तिवारी का बड़ा भाई मुकेश कांवर यात्रा पर गया हुआ था। जिसे घटना की जानकारी दी गई। जिसके बाद वह कार से घर के लिए रवाना हो गया है। उनके आने के बाद बुधवार को दोनों शव का अंतिम संस्कार किया जाएगा। बताया गया कि मृतक दक्ष तिवारी नर्सरी का छात्र था। परिवार का इकलौता बेटा था। इधर पुलिस मामले की जांच शुरू कर दी है। आरोपी की तलाश की जा रही है।