-->

 


भिलाई के नंदनी रोड से देसी व विदेशी शराब दुकान हटाने को लेकर लगातार आंदोलन जारी है। आंदोलन के 9वें दिन आंदोलनकारी महिलाओं ने शराब दुकान में शराब खरीदने आए लोगों को गुलाब का फूल भेंट करके अपनी तकलीफ बताई है। महिलाओं का कहना है कि जब तक शराब दुकान यहां से नहीं हटती है वह लोग इसी तरह गांधीवादी तरीके से आंदोलन जारी रखेंगे।

इस आंदोलन का नेतृत्व भिलाई नगर निगम के पार्षद पीयूष मिश्रा कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि नंदनी रोड की शराब दुकान हटाने के लिए वह लोग आंदोलन कर रहे हैं। उनके साथ महिलाएं बच्चे और नंदनी रोड के व्यापारी सभी शामिल हैं। वे पिछले 9 दिनों से हांथो में तख्ती लेकर विरोध प्रदर्शन में शामिल हो रहे हैं।

9 दिन बाद भी जब प्रशासन ने ध्यान नहीं दिया तो उन्होंने शराब दुकान में शराब लेने वाले लोगों को गुलाब का फूल देकर उन से निवेदन किया की शराब दुकान के कारण आसपास के रहवासी बहुत परेशान हैं। बच्चों का स्कूल कॉलेज जाना दूभर हो गया है। आए दिन महिलाओं का अपमान होता है। छेड़खानी होती है। यहां व्यापारियों का व्यापार पूरी तरीके से खत्म हो गया है। गुलाब फूल लेते समय शराब खरीदने वाले शर्मिंदा होते दिखे। उन्होंने आंदोलन कारियों की मांग को जायज बताया।

नुक्कड़ नाटक करके पहुंचाएंगे अपनी बात


पार्षद पीयूष मिश्रा ने बताया कि वे लोग कल से नुक्कड़ नाटक करेंगे। उसके माध्यम से लोगों को बताएंगे की शराब दुकान खुलने से किस किस तरह की परेशानी हो रही है। इसके साथ लोगों से मांग करेंगे कि वे भी इसमें उनका साथ दें, जिससे शासन प्रशासन उनकी मांग पर गौर करे और शराब दुकान हटाने के लिए मजबूर हो।

निगम की टीम पहुंची पंडाल हटाने


विरोध प्रदर्शन को समाप्त करने के लिए 9वें दिन नगर निगम भिलाई और पुलिस की टीम पहुंची। आंदोलन समाप्त न करने को लेकर अड़े पार्षद पीयूष मिश्रा से उनकी काफी बहस हुई। निगम की टीम विधायक को शराब दुकान लिखे फ्लैक्स हटाने के लिए दबाव बना रही थी। काफी बातचीत के बाद निगम और पुलिस की टीम वहां से बैरंग लौट गई।

×